Jan Dhan Yojana के तहत लोगो के खाते में आयेगे 10000, यहाँ पर चेक करें अपना नाम

प्रधानमंत्री जन-धन योजना, जिसे भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2014 को लोक के सामने पेश किया था, उसका आरंभ 28 अगस्त 2014 को हुआ था। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन सभी भारतीयों को बैंकिंग सेवाएँ प्रदान करना है, जिनके पास पहले से कोई बैंक खाता नहीं था। इस योजना के तहत, 45 करोड़ से अधिक खाते पहले ही खोल दिए गए हैं। अफवाह है कि इस योजना के अंतर्गत हर खातेदार को 10000 रूपए मिलेंगे, लेकिन इसे सत्यापित करने के लिए आवश्यक प्राधिकृत स्रोतों से जानकारी प्राप्त करें।

जन धन योजना के तहत न केवल बैंक खाता प्रदान किया जाता है, बल्कि ओवरड्राफ्ट की सेवा, बीमा की सुरक्षा आदि जैसी सुविधाओं का भी फायदा उठाया जा सकता है। इस प्लान के अंतर्गत, जो व्यक्ति अपना खाता खोलना चाहता है, वह अपने आस-पास के सीएसपी केंद्र या मिनी बैंक स्टाल पर पहुंचकर अपना खाता प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खोल सकता है।

प्रधानमंत्री जनधन योजना क्या है?

भारत में प्रत्येक व्यक्ति को बैंकिंग व्यवस्था से जोड़ने के उद्देश्य से 28 अगस्त 2014 को केंद्रीय सरकार ने प्रधानमंत्री जनधन अभियान की स्थापना की थी। इस अभियान के अंतर्गत व्यक्ति किसी भी बैंक में शून्य शेष वाला संचय खाता खोल सकता है। खाता खोलने वाले हर व्यक्ति को निःशुल्क रुपये का डेबिट कार्ड और दो लाख रुपये तक का बीमा सुरक्षा कवर प्रदान किया जाता है।

इसके अलावा, इन खाताधारकों को 10,000 रुपये तक की अतिरिक्त निधि की व्यवस्था भी प्रदान की जाती है। यह खाते देशव्यापी अनगिनत लोगों के लिए माध्यम बनते हैं, जिसके माध्यम से सरकार उन्हें सीधा लाभ प्रेषण (DBT) के जरिए विभिन्न योजनाओं, जैसे कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा अभियान, इत्यादि का लाभ पहुंचाती है।

Jan Dhan Yojana लाइफ इंश्योरेंस कवर

जैसा कि आप सभी जानते हैं, प्रधानमंत्री जन धन योजना का मुख्य उद्देश्य देश के हर नागरिक के लिए बैंक खाता उपलब्ध कराना था। इस पहल के तहत, लाभार्थियों को जीरो बैलेंस वाला खाता खोलने की अनुमति दी जाती है। साथ ही, उन्हें रुपे का डेबिट कार्ड भी दिया जाता है। इस योजना से लाभार्थियों को विभिन्न अन्य लाभ भी मिलते हैं। उदाहरण स्वरूप, यदि लाभार्थी को दुर्घटना होती है, तो वह ₹100000 के बीमा का लाभ प्राप्त करता है और यदि लाभार्थी का निधन होता है, तो उसके परिवार को ₹30000 की सहायता दी जाती है। हालांकि, जीवन बीमा का लाभ सिर्फ उन लोगों को मिलता है जिन्होंने अपना खाता 15 अगस्त 2014 से 26 जनवरी 2015 के दौरान प्रधानमंत्री जन धन योजना में खोला हो।

Pradhanmantri Jan Dhan Yojana की कुछ विशेष सुविधाएं

इस परिकल्पना के तहत जीरो शेष वाले बैंक खाते स्थापित किए गए थे। अब तक प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 1.20 करोड़ से अधिक बैंक खाते प्रारंभ हो चुके हैं, जिसमें 1,31,639 करोड़ रुपए संचित हैं। सरकार का उद्देश्य है कि इस परियोजना के जरिए हर भारतीय को जोड़ा जाए। कोविड-19 के लॉकडाउन के समय, सरकार ने महिलाओं के जन धन खाते में प्रतिमाह ₹500 का ट्रांसफर किया था। इस उपाय के जरिए लगभग 20 करोड़ से अधिक महिलाएं लाभान्वित हुई थीं।

  • प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत व्यक्तियों के लिए बचत खाता खोला जाता है।
  • इस प्रक्रिया में, खाता धारक को किसी निर्धारित राशि को खाते में बनाए रखने की आवश्यकता नहीं होती।
  • जो खाते प्रधानमंत्री जन धन योजना के अंतर्गत खोले जाते हैं, उन पर बैंक ब्याज भी देता है।
  • खाता धारक को इस योजना के तहत एक डेबिट कार्ड प्रदान किया जाता है।
  • जन धन योजना द्वारा ₹200000 तक का अपातकालिन बीमा आवरण भी संचारित किया जाता है। लेकिन, इस अनुषंग का फायदा तब मिलता है जब डेबिट कार्ड का प्रयोग होता है।
  • योजना के अंतर्गत, ₹30000 तक का जीवन बीमा आवरण भी प्रदान किया जाता है।
  • जन धन खाता धारक को ₹10000 की अतिरिक्त नकद उधार सुविधा भी प्राप्त होती है, लेकिन इसका लाभ प्राप्त करने के लिए उनका खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए।
  • इस खाते का प्रयोग सरकारी योजनाओं के लाभ को सीधे ट्रांसफर करने के लिए भी होता है।

सरकारी बैंकों में खुले सबसे ज्यादा जनधन खाते

सरकारी बैंक पीएम जनधन खाता खोलने में सबसे आगे रहे हैं। मार्च 2021 में जनधन खातों की कुल संख्या 33.26 करोड़ थी जो मई 2023 में 38.58 करोड़ पर पहुंच गई। इस तरह, पिछले दो वर्षों में सरकारी बैंकों में जनधन खातों की संख्या में लगभग 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो गई है। इसी प्रकार, सरकार द्वारा प्रोत्साहित क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों (RRBs) में 21 प्रतिशत तक वृद्धि देखने को मिली, और खातों की संख्या 7.1 करोड़ से वृद्धि होकर 9.1 करोड़ हो गई। वहीं, मार्च 2021 से मई 2023 के दौरान निजी बैंकों में जनधन खातों का विस्तार सिर्फ 12 प्रतिशत रहा।

प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • राशन कार्ड सूची
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • आधार के साथ लिंक मोबाइल नंबर

जन धन योजना 2023 का उद्देश्य

केंद्र सरकार ने गरीब और पिछड़े वर्ग के परिवारों के लिए 2023 में प्रधानमंत्री जन धन योजना चलाई है। इस योजना के तहत वह लोग जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन्हें बैंक में जीरो बैलेंस पर खाता खोलने की, ऋण प्राप्त करने की, प्रेषण, बीमा और पेंशन की सेवाएं मुहैया कराई जा रही हैं। 2023 की प्रधानमंत्री जन धन योजना का मुख्य उद्देश्य बैंकिंग, जमा खाता, प्रेषण, ऋण, बीमा और पेंशन जैसी वित्तीय सेवाएं सभी को सहज और प्रभावी तरीके से पहुँचाना है।

निष्कर्ष

2014 में शुरू हुई प्रधानमंत्री जनधन अभियान का मुख्य उद्देश्य भारतीय नागरिकों को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ना था। इसके अंतर्गत, व्यक्तियों को शून्य शेष वाला खाता, निःशुल्क डेबिट कार्ड, दो लाख तक की बीमा सुरक्षा, और 10,000 रुपये तक की अतिरिक्त निधि प्रदान की जाती है। इससे अनेक लोग सीधा लाभ प्रेषण (DBT) के जरिए विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं।

Leave a Comment