Sarkari Yojana: सरकार बेटियों को दे रही 1 लाख 43 हजार, अभी करें अप्‍लाई

आज के समय में हमारे समाज में जितनी ज्यादा उन्नति कर ली है, प्रारंभ से ही ऐसा नहीं था. पहले कन्याओं के जन्म को अभिशाप माना जाता था. किंतु अभी परिस्थितियां काफी हद तक सुधर चुकी है. लेकिन आज भी हमारे देश में ऐसी मानसिकता के लोग रहते हैं, जो कि बेटियों को बोझ के समान मानते हैं और किसी ना किसी प्रकार से उनसे छुटकारा पाना चाहते हैं. आज के इस पोस्ट में हम आप सभी लोगों के समक्ष सरकार के द्वारा लाई गई बेटियों के हित में एक योजना के विषय में जानकारी प्रदान करने वाले हैं, जिसका नाम है लाडली लक्ष्मी योजना.

Join

किस प्रकार मिलेगा लाभ?

सरकार इस योजना के अंतर्गत देश में रहने वाली बेटी के अकाउंट में ₹100000 से भी ज्यादा तक की धनराशि का भुगतान करती है. यह पूरा अमाउंट इंस्टॉलमेंट में प्रदान करी जाती है. यदि आप भी चाहते हैं कि आपके घर की कोई बेटी इस योजना का लाभ उठाएं, तो इसके लिए सर्वप्रथम यह बेहद ज्यादा आवश्यक है, कि आप इस योजना के तहत आवेदन कर ले. वैसे तो सरकार के द्वारा देश में रहने वाली बेटियों के लिए बहुत सारी योजनाएं आए दिन प्रारंभ की जाती रहती है. लेकिन आज के इस पोस्ट में हम आप सभी लोगों के समक्ष सरकार के द्वारा चलाई गई एक बहुत ही ज्यादा प्रशंसनीय योजना के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे.

Ladli Laxmi Yojana हेतु रजिस्ट्रेशन

हमारे देश ने अब काफी ज्यादा उन्नति कर ली है, जिसके परिणाम स्वरूप देश में रहने वाले बहुत से लोगों को लाभान्वित करना सरल हो चुका है. जिसमें मुख्य रुप से महिलाएं सम्मिलित की गई है. नए भारत के निर्माण में महिलाओं का योगदान होना बेहद ज्यादा आवश्यक है. ऐसे में सरकार देश कि बेटियों की पढ़ाई हेतु कई प्रकार से योजनाएं चलाती रहती है.

इसी संदर्भ में इस योजना के अंतर्गत देश में रहने वाली बेटियों को ₹100000 से भी ज्यादा की धनराशि सरकार के द्वारा प्रत्यक्ष रूप से प्रदान की जा रही है. यह धनराशि डायरेक्ट बेटियों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है. आपको हम इस बात से भी अवगत करवा दे‌ की यह अमाउंट 5 किस्तों में लाभार्थियों के खाते में प्रदान की जाती है. यदि आप भी चाहते हैं कि इस योजना से लाभान्वित होने वाली बेटियों में आपके घर की बेटी भी सम्मिलित हो, तो फिर आपको कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जिससे आपको सरकारी कार्यालय में जाकर के जमा करना होगा.

किस प्रकार प्राप्त होगी यह धनराशि?

सरकारी योजना के अंतर्गत देश में रहने वाली बालिकाओं के नाम पर 5 सालों तक ₹6000 नियमित रूप से जमा करती रहेगी. इस प्रकार से उस कोष में बेटी के नाम पर कुल ₹30000 जमा कर दिए जाएंगे. इसके पश्चात बेटी को इस योजना से पैसा मिलना प्रारंभ हो जाएगा. इस योजना के अंतर्गत पहली किस्त कक्षा छठी में प्रवेश करने के पश्चात ही प्रदान कर दी जाती है. इस समय में बालिका के बैंक अकाउंट में ₹2000 की धनराशि सरकार भेज देती है.

इसी प्रकार से जब वह नौवीं कक्षा में प्रवेश करेगी तब फिर उसके अकाउंट में दोबारा से ₹4000 की धनराशि ट्रांसफर कर दी जाएगी. इसके पश्चात कक्षा 11वीं में प्रवेश करने के साथ ही साथ उसे ₹6000 की धनराशि मिल जाएगी. इसके अतिरिक्त आखिरी किस्त कक्षा बारहवीं में दी जाने वाली है. जो कि ₹6000 की धनराशि होती है, इसके पश्चात जब बालिका 21 वर्ष की हो जाती है तब फिर उन्हें ₹100000 प्रदान कर दिए जाते हैं. हालांकि सरकार ने कुछ महीने पहले ही इस योजना में अमाउंट को बढ़ाने का निर्णय लिया है. इस प्रकार से संभवतः आखिरी किस्त के पैसे आपको अधिक ही प्रदान किए जाएंगे.

Read this also:

कितने का प्रमाण पत्र जारी होता है?

आपको भी यदि अपनी बेटी के नाम को इस योजना के तहत लाभार्थी सूची में सम्मिलित करवाना है. तो इसके लिए आपको सभी आवश्यक दस्तावेजों को आंगनवाड़ी कार्यालय में जाकर के जमा करना होगा. आप लोग सेवा केंद्र, परियोजना कार्यालय या फिर किसी इंटरनेट कैफे पर भी जाकर के आसानी से अप्लाई कर सकते हैं. यहां से अप्लाई करने के पश्चात परियोजना कार्यालय आपके आवेदन को स्वीकृत कर देगी.

जैसे ही आपका एप्लीकेशन एक्सेप्ट हो जाएगा उसके पश्चात आपकी बेटी के नाम पर ₹143000 का प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाता है. यहां पर आपको इस बात का खास ख्याल रखना है, कि पहले इस योजना के अंतर्गत ₹118000 का ही प्रमाण पत्र प्रदान किया जाता था. किंतु अब इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली है, धनराशि बढ़ा दी गई है. जिससे सभी लाभार्थियों के मुख्य पर और भी ज्यादा प्रसन्नता देखने को मिल सकती है.

इस योजना के तहत किन्हें लाभान्वित किया जाएगा?

लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत केवल ऐसी बालिकाएं ही आवेदन कर सकती है, जिनके माता-पिता मध्यप्रदेश के मूल निवासी हैं. यदि आवेदन कर्ता के माता-पिता सरकार को टैक्स देते है, तो फिर उन्हें इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा. परिवार में पहली बालिका का जन्म 1 अप्रैल 2008 के उपरांत ही हो तथा दूसरे कि यदि बात की जाए तो इस के दौरान परिवार नियोजन को अपनाना बेहद ही ज्यादा आवश्यक है. यदि किसी परिवार में प्रथम बालक या फिर बालिका है तथा दूसरे जन्म में दो जुड़वा बच्चियों का जन्म होता है. ऐसे स्थिति मैं दोनों जुड़वा बच्चियों को इस योजना का फायदा प्राप्त होगा.

यदि कोई परिवार बच्चे को गोद लेता है, तो इस स्थिति में भी गोद ली गई बच्ची को प्रथम संतान मानते हुए उसको लाडली लक्ष्मी योजना का फायदा प्राप्त हो सकता है. किंतु गोद ली गई बच्चे का गोद लेने का प्रमाण पत्र भी दिखाना होगा. यदि किसी आकस्मिक दुर्घटना में बालिका के माता पिता की मृत्यु हो जाती है. तो ऐसी स्थिति में बच्चे की उम्र 5 वर्ष होने तक आवेदन पत्र लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत प्रस्तुत किया जा सकता है. कुछ विशेष परिस्थितियों में किसी परिवार की तीन बच्चियों को भी लाडली लक्ष्मी योजना का फायदा प्राप्त हो सकता है. 

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के समक्ष Ladli Laxmi Yojana से संबंधित सारी आवश्यक जानकारियां उल्लेखित कर दी है. हमें आशा है कि हमारे द्वारा प्रदान की गई यह सभी जानकारियां आप को लाभान्वित करेंगी.

Leave a Comment