क्या है उज्ज्वला 2.0 योजना यहाँ देखें इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें (Ujjwala Yojana 2.0)

भारत सरकार द्वारा जारी हालिया योजनाओं में आज जानेंगे उज्ज्वला योजना के नए संस्करण उज्ज्वला योजना 2.0 के संबंध में, किन्तु इससे पहले संक्षिप्त में समझते हैं उज्ज्वला योजना की एतिहासिक पृष्ठभूमि को। साल 2016 में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने गरीबी रेखा से नीचे (BPL) गुज़र-बसर कर रहे परिवारों की महिलाओं को निःशुल्क LPG कनेक्शन देने हेतु ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ को मंजूरी दी थी।

उज्ज्वला योजना 1.0

उज्ज्वला योजना के पहले चरण के तहत मार्च 2020 तक गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों की 5 करोड़ महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन मुहैया करवाने का लक्ष्य था। अगस्त 2018 में इस योजना के तहत सात अन्य श्रेणियों की महिलाओं को भी शामिल किया गया और इस प्रकार कुल 8 करोड़ महिलाओं तक इस योजना का लाभ पहुँचा इसके अलावा पिछले 7 वर्षों में देश में तकरीबन 11,000 नए एलपीजी वितरण केंद्र भी खोले गए हैं।

पिछले वर्ष अगस्त माह में प्रधानमंत्री द्वारा विश्व जैव ईंधन दिवस (10 अगस्त) के अवसर पर इसके दूसरे चरण अर्थात उज्ज्वला 2.0 की शुरुआत की गई, इसके अंतर्गत सरकार की अतिरिक्त 1 करोड़ महिलाओं को लाभान्वित करने की योजना है योजना का दूसरा संस्करण मुख्यतः प्रवासी महिलाओं, जो किसी अन्य राज्य में रहती हैं तथा जिनके पास अपने पते का प्रमाण नहीं है उन्हें एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध करवाना है।

उज्ज्वला योजना 2.0

उज्ज्वला योजना 2.0 के तहत लाभार्थियों को पहली रिफिल मुफ्त में उपलब्ध कराने के साथ ही चूल्हा भी मुफ़्त दिया जाएगा, इस योजना के तहत ऐसे लोगों को एलपीजी कनेक्शन लेने में आसानी होगी जो रोजगार के उद्देश्य से एक राज्य से दूसरे राज्य में प्रवास करते हैं। उज्ज्वला योजना का लाभ लेने के लिए आधिकारिक पॉर्टल pmuy.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।

FAQs

[sp_easyaccordion id=”3928″]

Leave a Comment